बिहार के छात्रों को ग्‍लोबल एक्‍सपोजर देगा ओम स्‍टर्लिंग ग्‍लोबल विवि : डॉ0 पुनीत गोयल

पटना : ओम स्‍टर्लिंग यूनिवर्सिटी के चांसलर डॉ पुनीत गोयल ने आज पटना में आयोजित संवददाता सम्‍मेलन में कहा कि विश्‍व विद्यालय अनुदान आयोग से मान्‍यता प्राप्‍त ओम स्‍टर्लिंग ग्‍लोबल यूनिवर्सिटी बिहार के क्षेत्रों को ग्‍लोबल एक्‍सपोजर देगा। ओम स्‍टर्लिंग ग्‍लोबल यूनिवर्सिटी हरियाणा के हिसार स्थित जगलान गांव में ओम ग्रुप ऑफ इंस्‍टीट्यूट वैश्‍विक पैमाने पर अब तक का सबसे हाईटेक होगा, जहां स्‍कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्‍नोलॉजी, स्‍कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड फाइनेंस, स्‍कूल ऑफ आर्किटेक्‍चर एंड डिजाइन, स्‍कूल ऑफ एडवांस साइंस, स्‍कूल ऑफ पैरा मैडिकल साइंस, स्‍कूल ऑफ योग एंड नेचरोपैथी के अलावा स्‍कूल ऑफ टीचर एजुकेशन, स्‍कूल ऑफ फार्मास्‍युटिकल साइंस और स्‍कूल ऑफ लीगल स्‍टडी की पढ़ाई हाईटेक तरीकी से होगी।

विश्वविद्यालय के बारे में गुरूवार को यहां एक निजी होटल में पत्रकारों से विस्तृत बातचीत करते हुए चांसलर डॉ पुनीत गोयल ने बताया कि वर्ष 2007 में शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्तापूर्ण आयाम स्थापित करने के उद्देश्य को लेकर स्थापित किए गए ओम गु्रप ऑफ इंस्टीट्यूशन को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने अब आधिकारिक तौर पर ओम स्टर्लिंग ग्लोबल यूनिवर्सिटी के रूप में मान्यता प्रदान कर दी है। यूनिवर्सिटी में नौ अलग अलग विभाग (स्कूल)बनाए गए हैं। इनमें स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, स्कूल ऑफ मैनेजमेंट एंड फाइनेंस, स्कूल ऑफ ऑर्किटेक्चर एंड डिजाइन, स्कूल ऑफ एडवांस साइंस, स्कूल ऑफ पैरा मैडिकल साइंस, स्कूल ऑफ योगा एंड नेचरोपैथी, स्कूल ऑफ टीचर एजुकेशन, स्कूल ऑफ फार्माक्युटिकल साइंस, स्कूल ऑफ लीगल स्टडी में स्र्टीफिकेट कोर्सिज से लेकर डिप्लोमा, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन व पीएचडी तक की सुविधा रहेगी। जिसमें इसी माह से एडमिशन लिए जा सकेंगे। विश्वविद्यालय में 2730 सीटें स्वीकृत की गई है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए वाइस चांसलर प्रो. देवेन्द्र पाठक ने कहा कि अभी तक ओम ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट जीजेयू से संबंद्ध था। इसलिए संस्थान विद्यार्थियों के हितों में कई महत्वपूर्ण निर्णय नहीं ले पाता था। अब प्राइवेट यूनिवर्सिटी के तौर पर ओम स्टर्लिंग ग्लोबल यूनिवर्सिटी छात्र हित में निर्णय लेते हुए उनके सर्वांगीण विकास पर कार्य करेगी। उन्होनें बताया कि इस यूनिवर्सिटी में सुविधाएं अन्य सरकारी व गैर सरकारी विश्वविद्यालयों की तुलना में बेहतर से बेहतर दी जाएंगी ताकि स्टूडेंट्स को किसी तरह की कमी महसूस न हो और वे अपनी पढ़ाई पूर्ण कर सके। विशेष तौर पर कैंपस प्लैसमेंट पर ध्यान दिया जाएगा ताकि यूनिवर्सिटी में पढऩे वाले स्टूडेंट्स अपनी पढ़ाई पूर्ण करते हुए अपने पैरों पर खड़ा हो सके।

मोके पर बताया कि ओम ग्रुप ऑफ इंस्‍टीट्यूशन में नौ अलग – अलग विभाग में सर्टिफिकेट कोर्सेस से लेकर डिप्‍लोमा, ग्रेजुएशन, पोस्‍ट ग्रेजुएशन और पीएचडी की सुविधा रहेगी। वही उन्होंने कहा की इस सत्र के लिए एड़मिशन मई यानी अभी से शुरू हो चुकी है। विवि में फिलहाल 2730 सीटें स्‍वीकृ‍त की गई हैं। ऐसे में बिहार के छात्रों को इस विवि में एडमिशन के लिए सुनहरा मौका है। संवददाता सम्‍मेलन में वीसी डॉ देवेन्द्र पाठक, ज्वाईट डायरेक्‍टर प्रो प्रमोद कुमार पांडेय और प्रो अमित रंजन मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here