फाइव स्टार होटल में खाना इतना महंगा नहीं पड़ता जितना ऑनलाइन ऑर्डर देने में पड़ गया

पटना:- हर सिक्के के दो पहलू होते है ऑनलाइन शॉपिंग एप्प जिस तेजी से अपने पैर पसार रहा है वो हमारे लिए फायदेमंद के साथ कई सारे लोगों के लिए घाटे का सौदा बनती जा रही है।आय दिन बैंक फ्रॉड के किस्से तो आप सुनते ही होंगे लेकिन हैकरों की हिम्मत इतनी बढ़ गयी है कि ये अब ऑनलाइन शॉपिंग एप्प को भी नहीं छोड़ रहे है । अगर आप भी जोमैटो से रेगुलर खाना ऑर्डर करते है तो ये खबर आपके लिए है ऐसी तीन घटना जिससे अगली बार खाना ऑर्डर करने से पहले आप सौ बार सोचेंगे-
पहली घटना बिहार के राजधानी पटना के इंजीनियर विष्णु की है जिन्होंने 10 सिंतबर को जोमैटो से ऑफर का इस्तेमाल करते हुए सौ रुपए का खाना मंगवाया। विष्णु को खाने की क्वालिटी ठीक नहीं लगी,ठीक उसी समय उन्होंने डिलिवरी बॉय से खाना वापस करने को कहा। डिलिवरी बॉय ने कॉल कर सीनिअर से बात करने की सलाह दी।विष्णु ने ऐसा ही किया गूगल से सर्च कर जोमैटो के नंबर पर कॉल किया और पैसे रिफंड के लिए बात किया थोड़े देर बाद कॉल आता है और वो खुद को जोमैटो का सीनिअर एक्सक्यूटिव बताता है उसने विष्णु से कहा आपके पैसे वापस आ जायेंगे आपको दिए गये निर्देशो का पालन कर लिंक क्लिक कर दस रुपये पे करना होगा।विष्णु ने ऐसा ही किया लेकिन पैसे वापस आना तो दूर की बात रही, एकाउंट से धीरे-धीरे सारे पैसे निकाल लिए गये।इस घटना पर विष्णु ने पुलिस और बैंक में शिकायत की है लेकिन अभी तक इसका पता नहीं चल पाया है।

दूसरी घटना लखनऊ निवासी डॉ अभिषेक टंडन की है जो पीजीआई में जूनियर रेजिडेंट है 11 सितंबर को उन्होंने जोमैटो पर खाने का आर्डर किया लेकिन आर्डर पूरा नहीं हुआ और उनके पैसे काट लिए गए, 13 सितंबर तक पैसे रिफंड नहीं होने पर उन्होंने गूगल से जोमैटो का नंबर देख कर कॉल किया कुछ ही देर बाद एक फोन कॉल आता है और वह अपने आप को जोमैटो का सीनियर एग्जीक्यूटिव बताता है और एक लिंक सेंड करने की बात करता है और दिए गए निर्देशों का पालन करने के लिए अभिषेक से कहता है विष्णु की तरह ही अभिषेक ने भी निर्देशों का पालन कर लिंक क्लिक कर दिया थोड़ी देर बाद उनके अकाउंट से 96 हजार रुपए गायब हो गये। इस बात की शिकायत उन्होंने अपने बैंक में किया लेकिन अभी तकइस बारे में कुछ पता नहीं चल पाया है ।

तीसरी घटना एमडीयू की छात्रा साक्षी का है जो श्रीनगर कॉलोनी में रहती हैं उन्होंने 21 जुलाई को जोमैटो से खाना ऑर्डर किया था खाने की क्वालिटी सही नहीं होने के कारण उन्होंने साक्षी ने गूगल से नंबर देखकर जोमैटो को कॉल किया और शिकायत दर्ज कराई थोड़ी देर बाद एक कॉल आता है और वह अपने आप को जोमैटो का सीनियर एग्जीक्यूटिव बताता है साक्षी ने भी उसके दिए गए निर्देशों का पालन किया लेकिन पैसे वापस आने के वजाय वह ठगी का शिकार हो चुकी थी और उनके अकाउंट से 80 हजार रुपये गायब हो चुके थे।

अगर आप भी ऑनलाइन खाना मंगवाते हैं तो इस घटना से सचेत रहने की जरूरत है । गूगल पर बहुत सारे ऐसे नंबर उपलब्ध है जिससे हैकर आपको संपर्क कर सकते हैं इसीलिए कोई भी शॉपिंग करने से पहले उसके एप्प का ही इस्तेमाल करें और कोई भी लिंक क्लिक करने के पहले सौ दफा सोच ले वरना अगली बारी आपकी भी हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here